A PHP Error was encountered

Severity: Warning

Message: preg_match(): Compilation failed: unmatched closing parenthesis at offset 38

Filename: hooks/Check_user.php

Line Number: 222

Backtrace:

File: /home/b2z283hyjn3q/public_html/application/hooks/Check_user.php
Line: 222
Function: preg_match

File: /home/b2z283hyjn3q/public_html/application/hooks/Check_user.php
Line: 89
Function: getOS

File: /home/b2z283hyjn3q/public_html/application/hooks/Check_user.php
Line: 12
Function: anylisis

File: /home/b2z283hyjn3q/public_html/index.php
Line: 315
Function: require_once

Unknown Database Languages and Interfaces in DBMS in hindi | My Project HD | My Project HD
X

Database Languages and Interfaces in DBMS in hindi

Computer Science Engineering Tutorials in Hindi | Relational Database Management System Tutorial for Beginners in Hindi



Database Languages and Interfaces in DBMS in Hindi :

Database Languages :

एक DBMS में Database query और update को expres करने के लिए appropriate languages और interfaces हैं।

Database languages का उपयोग Database में Data को read, store करने और update करने के लिए किया जा सकता है।

 

Types of Database Language

Database Languages and Interfaces in DBMS in hindi

Data Definition Language (DDL): 

DDL का मतलब Data Definition Language है। इसका उपयोग Database structure या pattern को Definition करने के लिए किया जाता है। 
इसका उपयोग Database में schema, tables, indexes, constraints आदि बनाने के लिए किया जाता है।
DDL statement का उपयोग करके, आप database का skeleton बना सकते हैं।
Data Definition languages का उपयोग Metadata की information को store करने के लिए किया जाता है जैसे table और schema के  number , names, indexes, प्रत्येक table में  columns , constraints आदि।

यहाँ कुछ work हैं जो DDL के अंतर्गत आते हैं:
Create, Alter, Drop, Truncate, Rename, Comment

 

Data Manipulation Language (DML) :

DML का मतलब Data Manipulation Language है। इसका उपयोग किसी database में data तक पहुंचने और manipulating करने के लिए किया जाता है। यह users के requests को handle करता  है।

यहाँ कुछ work हैं जो DML के अंतर्गत आते हैं :
Select, Insert , Update , Delete , Merge , Call , Explain Plan , Lock Table

 

Data Control Language (DCL) :

DCL का मतलब Data Control Language है। इसका उपयोग Store या save किये  गए डेटा को पुनः प्राप्त करने के लिए किया जाता है।
DCL execution transactional है। इसमें rollback parameters भी हैं।

यहाँ कुछ work हैं जो DDL के अंतर्गत आते हैं:
Grant , Revoke

 

Transaction Control Language (TCL):
TCL का उपयोग DML Statement द्वारा किए गए changes को चलाने के लिए किया जाता है। TCL को एक logical transaction में grouped किया जा सकता है

यहाँ कुछ work हैं जो DDL के अंतर्गत आते हैं:
Commit , Rollback 

 



More Tutorials

Web Technology Tutorials in Hindi

Web Technology Tutorials in Hindi

Read More
Diploma engineering tutorial for polytechnic collage

Diploma Engineering Tutorial

Read More
Final Year Projects for Computer Science with Source Code

Final Year Projects for Computer Science with Source Code

Read More